माता वैष्णो देवी मंदिर में आधी रात को मची भगदड़, कई श्रद्धालुओं की मौत | Vaishno Devi News | Trendsfirst

 


न्यू ईयर के मौके पर (Mata Vaishno Devi Mandir) जम्मू कश्मीर में स्थित माता वैष्णो देवी मंदिर से दुखद ख़बर सामने (Vaishno Devi Mandir Incident) आई है. अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि रात के 2 बजकर 45 मिनट पर अचानक भगदड़ मच गई (Mata Vaishno Devi Mandir Incident) थी, जिसमें 12 लोगों की मौत हो गई. जबकि 13 लोग घायल बताए जा रहे हैं. फिलहाल राहत और (Vaishno Devi Stampede) बचाव कार्य जारी है. पहले यात्रा पर रोक लगा दी गई थी. हालांकि स्थिति सामान्य होने के बाद यात्रा बहाल कर दी गई. ऐसा कहा जा रहा है कि यह घटना त्रिकुटा पर्वत पर स्थित मंदिर के गर्भगृह के बाहर गेट नंबर तीन (Mata Vaishno Devi Stampede Reason) के पास हुई है.



अधिकारियों ने बताया कि नए साल के मौके पर भारी संख्या में लोग माता के दर्शन करने पहुंचे हुए थे. तभी ये हादसा हो गया. मामले में उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं. जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने मामले में गृहमंत्री अमित शाह से बात की है. भगदड़ कैसे मची इसे लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं. जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया, ‘कटरा के माता वैष्णो देवी भवन में मची भगदड़ में 12 लोगों की मौत हुई है. घटना 2 बजकर 45 मिनट पर हुई और प्रारंभिक रिपोर्टों के अनुसार कुछ लोगों के बीच किसी बात पर बहस हुई थी, जिसके परिणामस्वरूप लोगों ने एक-दूसरे को धक्का दिया और फिर भगदड़ मच गई.’
वैष्णव देवी मंदिर में भगदड़

गाजियाबाद से पहुंचे चश्मदीद ने बताया कि कुछ लोग दर्शन करने के बाद भी मंदिर परिसर में रुके हुए थे, जिसके कारण भीड़ काफी ज्यादा बढ़ गई (Stampede At Mata Vaishno Devi Bhawan). लोगों को बाहर निकलने तक के लिए जगह नहीं मिल पा रही थी. छोटी सी जगह में ही बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे. चश्मदीद ने कहा कि कहीं ना कहीं चूक हुई है. अगर लोगों को पहले ही रोक दिया जाता, तो हालात इतने नहीं बिगड़ते. उन्होंने इस खौफनाक मंजर के बारे में बताते हुए कहा कि भीड़ इतनी ज्यादा थी कि वह खुद दर्शन नहीं कर सके.



पीएम मोदी ने वैष्णव देवी घटना पर जताया दुख


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर दुख जताया है और अपनी संवेदना व्यक्त की है. गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बताया, जम्मू के कटरा में माता वैष्णो देवी में मची भगदड़ के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं. कटरा के नारायणा अस्पताल में 13 घायल भर्ती हैं. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) ने कहा, यह जानकर बहुत दुख हुआ कि माता वैष्णो देवी भवन में एक दुर्भाग्यपूर्ण भगदड़ ने भक्तों की जान ले ली. शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है. मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा, मैं माता वैष्णो देवी तीर्थ पर त्रासदी से उत्पन्न स्थिति का जायजा लेने के लिए तुरंत कटरा जा रहा हूं.



वैष्णव देवी मंदिर घटना में भक्तों की मौत


जम्मू-कश्मीर एलजी (Jammu Kashmir LG) मनोज सिन्हा ने कहा, कटरा में माता वैष्णो देवी भवन में भगदड़ में मारे गए लोगों के परिजनों को 10 लाख रुपये और घायलों को 2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी. पीएमओ की तरफ से ट्वीट कर बताया गया है, भगदड़ में जान गंवाने वालों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएंगी और घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे.


वैष्णव देवी हेल्प लाइन नंबर


जम्मू-कश्मीर के एलजी कार्यालय ने बताया कि श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड (Vaishno Mata Shrine Board) ने 01991-234804, 01991-234053 हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं. इसके अलावा अन्य हेल्पलाइन नंबर हैं- पीसीआर कटरा- 01991232010/ 9419145182, पीसीआर रियासी- 0199145076/ 9622856295, डीसी कार्यालय रियासी कंट्रोल रूम- 01991245763/ 9419839557.

Post a Comment

Previous Post Next Post